ऐसे कई प्राचीन भारतीय लेखक हैं जिन्होंने भारतीय साहित्य में बहुत अच्छा योगदान दिया।

प्राचीन भारत के लेखकों ने कविता, नाटक, धर्म, दार्शनिक लेखन, गणित, और अन्य सभी क्षेत्रों में अतुल्य योगदान दिया है।

प्राचीन भारत के लेखकों ने कविता, नाटक, धर्म, दार्शनिक लेखन, गणित, और अन्य सभी क्षेत्रों में अतुल्य योगदान दिया है।

इस स्टोरी में, हम प्राचीन भारत के कुछ महान लेखकों और उनकी पुस्तकों पर प्रकाश डालेंगे, जिन्होंने उस समय के आम लोगों के जीवन के साथ-साथ आज के लोगों का जीवन भी सकारात्मक ढंग से प्रभवित किया है।  

लेखक - वात्स्यायन   रचना - कामसूत्र

कामसूत्र एक सबसे लोकप्रिय प्राचीन भारतीय ग्रंथों में से एक है यह ग्रन्थ लोगों के यौन जीवन में मधुरता भरकर उनके जीवन में सुख शांति लाता है।   

लेखक - कालिदास   रचना - मेघदूत

मेघदूत कालिदास की सबसे अच्छी और सबसे अधिक मान्यता प्राप्त कृतियों में से एक है,जिन्हें अब तक के सबसे महान प्राचीन संस्कृत कवियों में से एक माना जाता है।

लेखक - कौटिल्य   रचना - अर्थशास्त्र

इस पुस्तक मे अर्थशास्त्र, नैतिकता, आपराधिक और दीवानी अदालतें, कानून,  कूटनीति, शांति की प्रकृति, युद्ध के सिद्धांतों, राजा के कर्तव्यों आदि पर भी प्रकाश डालता है।

ऐसी ही अन्य प्राचीन पुस्तकों के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करके आर्टिकल पढ़ें।